UP BHULEKH | यूपी भूलेख ऑनलाइन खसरा खतौनी नकल जमाबंदी | BHULEKH UTTAR PRADESH

UP भूलेख पोर्टल (Bhulekh Portal)

इसे भी पढ़े : योनो एसबीआई कैसे यूज़ करें

इसे भी पढ़े : Update Aadhaar Address

भूलेख वेब पोर्टल (Bhulekh Portal) का निर्माण उत्तर प्रदेश के भूमि रिकार्ड को कंप्यूटरीकृत करने के लिए इस प्रकार किया गया है कि भू-अभिलेखों के प्रतिदिन की गतिविधियों को सुव्यवस्थित किया जा सके| भूलेख पोर्टल (Bhulekh Portal) खतौनी के पूरे जीवन चक्र को बनाए रखता है| भूलेख डाटा एपीआई भू-अभिलेख डाटा का इंटरफ़ेस है जो अन्य एप्लीकेशन्स के साथ पारदर्शिता प्रदान करता है| भूलेख डाटा एपीआई के प्रयोग से आप भू-अभिलेख डाटा , भू-अभिलेख के मालिक की जानकारी, भू-अभिलेख की जानकारी इत्यादि देख सकते है वेब आधारित भूमि दस्तावेज़ प्रणाली 2 मई 2016 से प्रारंभ हुई थी I जिसे प्रदेश की समस्त तहसीलों में लागू कर दिया गया है |

यूपी भूलेख (UP Bhulekh Portal) एक ऑनलाइन पोर्टल है जो यूपी खतौनी और अन्य संबंधित भूमि की जानकारी रखता है। यह कम्प्यूटरीकृत प्रणाली बहुत व्यवस्थित और पारदर्शी है। प्रत्येक नागरिक किसी भी स्थान से अपनी भूमि के रिकॉर्ड की जानकारी आसानी से एकल क्लिक से आसानी से देख सकता है। जानकारी के एक छोटे से टुकड़े को जानने के लिए उन्हें राजस्व कार्यालय, यूपी पटवारी या किसी अन्य संबंधित कार्यालय के लंबे समय तक इंतजार नहीं करना पड़ता है ना ही किसी की पैरवी करनी पड़ेगी।

इसे भी पढ़े : Update Aadhaar Address

यूपी भूलेख पोर्टल (UP Bhulekh Portal) के माध्यम से आप अपनी जमीन का विवरण ऑनलाइन मिल सकता है। भूलेख का अर्थ होता है जमीन के कागजात इस भूले पोर्टल के द्वारा हम अपने कालजात ऑनलाइन देख सकते हैं।  भूलेख के  कागज के माध्यम से हम बैंक के द्वारा लोन प्राप्त कर सकते हैं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के द्वारा बीमा करवा सकते हैं तथा इसका उपयोग जमीन के बंटवारे में भी काम आ सकता है I यूपी भूलेख पोर्टल (UP Bhulekh Portal) के माध्यम से आप अपनी जमीन का विवरण ऑनलाइन मिल सकता है।  भूलेख का अर्थ होता है जमीन के कागजात इस भूले पोर्टल के द्वारा हम अपने कालजात ऑनलाइन देख सकते हैं। भूलेख के  कागज के माध्यम से हम बैंक के द्वारा लोन प्राप्त कर सकते हैं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के द्वारा बीमा करवा सकते हैं तथा इसका उपयोग जमीन के बंटवारे में भी काम आ सकता है I

इसे भी पढ़े : RTI कैसे लगाए

UP भूलेख पोर्टल (Bhulekh Portal)का कैसे करें उपयोग

तो आइए हम जानते हैं कि इस यूपी भूलेख पोर्टल (UP Bhulekh Portal) का उपयोग हम अपनी जमीन का भूलेख देखने में कैसे संभाल कर सकते हैं I

इसे भी पढ़े : बेरोजगारी भत्ता Online आवेदन

Step 1- सबसे पहले आपको यूपी भूले की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा इस लिंक पर क्लिक करके I

Step 2- होम पेज पर जाकर आपको कई ऑप्शन दिखाई देंगे जिसमें से आपको इस पर क्लिक करना होगा  “खतौनी अधिकार अभिलेख की नकल देखें” I

इसे भी पढ़े : अपने एरिया को Sanitize कैसे करवाए

Step 3-इस पर क्लिक करते ही एक नया पेज आपके सामने खुलकर आ जाएगा जिसमें आपको  कैप्चा कोड दिए गए स्थान पर लिखना होगा और उसके बाद एंटर पर क्लिक करना होगा। 

इसे भी पढ़े : Lockdown में बाहर फसे लोग सरकारी मदद कैसे ले

Step 4 -जिला चुने – इसके बाद एक नया पेज खुल के आ जाएगा जिसमें आपको सबसे पहले अपनी अपना जिला चुनना होगा।

इसे भी पढ़े : Lockdown में खाना और अन्य सामान ना मिले तो क्या करे

Step 5 –तहसील चुने – अपना जिला चुनने के बाद आपको अपनी तहसील चुन्नी होगी जो कि सामने दी गई लिस्ट में दिख रही  होगी।

इसे भी पढ़े : गन्ना पर्ची केलिन्डर कैसे देखे 

Step 6 – गांव  चुने – तहसील चुनने के बाद आपके सामने आपके तहसील के सारे गांव की लिस्ट आ जाएगी इसमें से आपको अपने गांव का नाम चुनना होगा।

इसे भी पढ़े : UP में शिकायत के लिये Dial 1076

Step 7 – इसके बाद आपको मांगी गई जानकारी दिए गए  स्थान पर लिखना होगा इस मांगी गई जानकारी को आप चार प्रकार से खोज सकते हैं जो निम्नलिखित हैं।

  1. खसरा / गाटा संख्या द्वारा खोजें
  2. खसरा संख्या द्वारा खोजें
  3. खातेदार के नाम के द्वारा खोजे 
  4. नामांतरण दिनांक के द्वारा खोजें

इसे भी पढ़े : प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण

इसे भी पढ़े : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

Step 8- अपनी सही सही जानकारी देने के बाद “उद्धरण देखें” पर क्लिक करें I

Step 9 – इस पर क्लिक करते ही आपके सामने आपकी समस्त जानकारियां सामने आ जाएंगी।

इसे भी पढ़े : UP Online-FIR

इसे भी पढ़े : जनसुनवाई ऐप

Step 10 – इसके बाद आप इस पेज को सेव कर सकते हैं या फिर इसको ग्रीनशॉट लेकर अपने पास सुरक्षित कर सकते हैं जिससे आप कभी बात में इसे देखना चाहे तो आसानी से देख सके I

इसे भी पढ़े : Dial 1076 – करे शिकायत

UP भूलेख पोर्टल (Bhulekh Portal) से संबंधित कुछ प्रश्न और उत्तर

इसे भी पढ़े : mKisan Portal

प्रश्न :-ग्राम में गाटे की भूखण्ड /गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्तिथि जानने के लिए के लिए क्या करें?
उत्तर :-ग्राम में गाटे की भूखण्ड / गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्तिथि जानने के लिए भूखण्ड / गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्तिथि के मेन्यू पर क्लिक करें I
अपना जनपद चुनें I
अपनी तहसील चुनें I
ग्राम चुननें के लिए साइड में दिये हिन्दी कीबोर्ड के ग्राम के प्रथम अक्षर को क्लिक करें। उस अक्षर से प्रारम्भ होने वाले ग्राम आपको दिखाई देगें। अपना ग्राम चुनें।
अपने गाटे पर मुक़दमे की स्तिथि जाने के लिए गाटा प्रस्तिथि” पर क्लिक करें I

प्रश्न :-क्या चकबन्दी /सर्वे ग्राम की नकल खतौनी प्राप्त की जा सकती है । ?
उत्तर :-ग्राम की पुरानी से नयी खतौनी बनी होगी या फिर चकबन्दी प्रकिया से वापिस आने पर ग्राम की खतौनी नयी बनी होगी। बनने के बाद डिजीटल हस्ताक्षर न होने के कारण नकल नहीं बन रही है। इसके लिए इन्तजार कर लें या फिर तहसील से सम्पर्क करें ।

प्रश्न :-क्या प्रमाणित प्रति पर दिये उद्दरण क्रमांक को वेरीफाई किया जा सकता है ।
उत्तर :-हाँ (http://upbhulekh.gov.in पर जाकर “नकल खतौनी प्रमाणित करें / Verify ROR by RoR Id” पर क्लिक करें। उद्दरण क्रमांक (Only Number) डालने पर विवरण आपको प्राप्त होगा कि कहां से कब नकल जारी हुई थी।

नीचे दिये लिंक पर क्लिक करने पर वर्तमान स्थति (Present Status) देखी जा सकती है ।

हम आशा करते हैं हमारे माध्यम से भूलेख पोर्टल से संबंधित सारी जानकारी आपको प्राप्त हो गई होंगी I अन जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे पोर्टल shrinews.com से जुड़े रहे हैं।

इन विषयो पर भी पढ़े :

Shivanshu Mehta

Leave a Reply