मनरेगा (MNREGA) सम्बंधित शिकायत कैसे करे

इसे भी पढ़े : क्या होती है धारा 144 और कर्फ्यू (Cerfew) ?
इसे भी पढ़े : Lock Down क्या होता हैं ?

इसे भी पढ़े : कैसे बनवाए बांध/नहर अपने गांव में ?

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (MGNREGA), जिसे महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MNREGS) के रूप में भी जाना जाता है, 25 अगस्त 2005 को अधिनियमित किया गया था।

ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार राज्य सरकारों के साथ इस योजना के कार्यान्वयन की निगरानी कर रही है।

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना को एक सामाजिक उपाय के रूप में पेश किया गया था जो काम करने के अधिकार(Right to Work)  की गारंटी देता है। स्थानीय सरकार को अपने जीवन स्तर को बढ़ाने के लिए ग्रामीण भारत में कम से कम 100 दिनों का वेतन रोजगार प्रदान करना होगा।

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (MNREGA) के मुख्य उद्देश्य:

इसे भी पढ़े : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना क्या है ?

  1. अकुशल श्रम के लिए स्वेच्छा से काम करने वाले प्रत्येक श्रमिक के लिए 100 दिनों से कम नहीं का भुगतान किया गया ग्रामीण रोजगार।
  2. ग्रामीण गरीबों की आजीविका का आधार।
  3. कुओं, तालाबों, सड़कों और नहरों जैसे ग्रामीण क्षेत्रों में टिकाऊ संपत्ति का निर्माण।
  4. ग्रामीण क्षेत्रों से शहरी क्षेत्रों में पलायन को कम करना।
  5. स्थानीय मजदूरों का उपयोग करके ग्रामीण बुनियादी ढांचे का निर्माण करना।
  6. आवेदन जमा करने के 15 दिनों के भीतर या जिस दिन से काम की मांग की जाती है, आवेदक को मजदूरी रोजगार प्रदान किया जाएगा।
  7. किए गए काम को 15 दिनों के भीतर मजदूरी की प्राप्ति कराई जाएगी |
  8. मनरेगा कार्यों का “सामाजिक अंकेक्षण” (Social Audit) अनिवार्य है , जिससे जवाबदेही और पारदर्शिता बढ़ती है।

इसे भी पढ़े : कैसे बनवाएं खराब एवं नई सड़कें गांव की जल्द से जल्द I

मनरेगा (MNREGA) योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए पात्रता मानदंड निम्नलिखित हैं:

  1. मनरेगा (MNREGA) का लाभ पाने के लिए एक श्रमिक भारत का नागरिक होना चाहिए।
  2. नौकरी चाहने वाले श्रम को आवेदन के समय 18 वर्ष की आयु पूरी करनी चाहिए
  3. आवेदक केवल स्थानीय ग्राम पंचायत से होना चाहिए
  4.  इसके लिए आवेदक  अकुशल श्रमिक होना चाहिए।

जनसंवाई (Jansunwai) अप्प से :

इसे भी पढ़े: जाने प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना में कैसे होगा registration , Beneficiary Status और List

jansunwai

इसे भी पढ़े: खराब ट्रांसफार्मर कैसे बदलवाए , कैसे नया लगवाए ?

1–  “जनसुनवाई ऐप” (Jansunwai App) में अपनी सारी सही जानकारी डालकर उसमें खुद को “लॉगइन”(Login) करें ।

2-  एप खोलते ही एक लंबी सी लिस्ट आ जाएगी फोटो सहित उसमें सबसे पहले शिकायत पंजीकरण लिखा होगा उस पर क्लिक करें।

3- शिकायत पंजीकरण का पेज खुल जाएगा उसमें संधर्भ का प्रकार लिखा होगा उसके चार ऑप्शन होंगे-  शिकायत, मांग, सलाह ,अन्य  तथा आगे की जानकारियां देनी होंगी ।

4- आप इसमें सामूहिक शिकायत वाले डब्बे पर भी क्लिक (Click) कर सकते हैं जिससे कि यह जानकारी प्राप्त होगी कि यह आपके पूरे क्षेत्र की समस्या है।

5-  अवेदकर्ता का विवरण दें – आवेदक कर्ता का नाम, पिता/पति का नाम ,लिंग ,मोबाइल नंबर 1 ,मोबाइल नंबर 2 , email,  आधार संख्या

6- सारी जानकारी सही से डालने के बाद आगे बढ़े पर क्लिक करें ।

7- आगे बढ़ने पर एक नया पेज खुल जाएगा के ऊपर लिखा होगा “शिकायतकर्ता का विवरण” ।

इसे भी पढ़े: KCC-किसान क्रेडिट कार्ड कैसे प्राप्त करें ?

8- अपनी परेशानी अनुसार अपना विभाग  चुने , हमारी परेशानी  मनरेगा से संबंधित है तो इसके लिए हमको  “ग्राम्य विकास विभाग” को चुनना होगा दी गई हुई लिस्ट में से ।

9- इसके बाद हमको श्रेणी का भी चयन करना होगा उसकी लिस्ट खोल कर आप  इन सब पर शिकायत कर सकते है :

  • मनरेगा में जॉब कार्ड संबंधी/ मनरेगा मजदूर का फर्जी भुगतान|
  • मनरेगा में काम ना मिलना /रोजगार सृजन|
  • मनरेगा में मजदूरी भुगतान विषयक कोई भी प्रकरण-भुगतान ना होना/ फर्जी भुगतान /कम भुगतान/ समय से ना भुगतान आदि

10- अगर आपने इसके लिए पूर्व में भी कोई  शिकायत या मांग करी है  तो पूर्व संबंधी संख्या वाले डिब्बे पर दबाएं ।

11– संदर्भ संख्या 1 एवं संदर्भ संख्या 2 डालें अगर हो तो ।

12- आवेदन पत्र का विस्तृत विवरण दें यह सिर्फ 3500 शब्दों में ही दिया जा सकता है ।

13-  इसके बाद आगे बढ़े पर क्लिक करें और इसके बाद एक नया पेज खुल जाएगा |

14- शिकायत/ सुझाव, क्षेत्र का पता पूछा  जाएगा जिसमें आप ग्रामीण या नगरीय  चुन सकते हैं ।

15- अपना जनपद चुने |

16 – दी गई सूचि में से अपना तहसीलथानाविकासखंड चुने

17 – उसके बाद ग्राम पंचायत एवं अपना ग्राम ध्यान पूर्वक सुने

19 – सारी जानकारी सही से देने के बाद आगे बढ़े पर दबाएं |

20-  उसके पश्चात आपको एक नंबर आएगा मैसेज करो जिसे आप अपनी शिकायत का स्थिति जानने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं

इसे भी पढ़े: जैविक खेती (Organic Farming) में कृमि कम्पोजिट (Vermi Composite) की मुख्य भूमिका व लाभ

मनरेगा (MNREGA) की आधिकारिक वेबसाइट से :

मनरेगा पे अपनी शिकायत करने का एक अन्य तरीका भी है आप सीधे मनरेगा की वेबसाइट पर जा सकते है इसपे क्लिक करे – मनरेगा (MNREGA)

इस पेज पर एप राज्य का चयन करिये |

इसके बाद एक नया पेज खुल जाएगा , जिसमे आपको मांगी  हुई पूरी  जानकारी देनी होगी |

1. Details and Location Of Complainant (शिकायतकर्ता का पता और स्थान ) :

इसे भी पढ़े : जेल Online eMulakat pass जाने कैसे बनेगा , कैदी से मिलना हुआ आसान , पूरे भारत में I

  • Complaint By
  • Complaint Source         
  • State -UTTAR PRADESH
  • District      
  • Block       
  • Village authority          
  • Complainant Name     
  • Name of Father/Husband     
  • Complainant Address
  • Complainant Email
  • Phone No.
  • Mobile No

2. Details and Location Of Complaint ( विवरण और शिकायत का स्थान ) :

इसे भी पढ़े : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना क्या है ?

  • Complaint Against whom – Gram Panchayat, Block Panchayat ,Program Officer ,  Zila Panchayat ,District Program Coordinator (DPC) , Implementing Agency
  • State
  • District

इन विषयो पर भी पढ़े :

3. इसमें Complaint कैटेगरी भी चुनने की सुविधा उपलब्ध है :

Registration/Job Card :

  • Gram Panchayat not registering   
  • Job card not issued     
  • Job Card not given to the workers         
  • Other

Demand for work :

  • Not registering demand       
  • Not giving dated receipt      
  • Other

Work Allocation :

  • No work Available      
  • Not allocating within 5 K.m.
  • Not giving TA/DA for work site > 5 K.m.
  • Not allocating on time         
  • Other      

Payment :

  • Delay in payment       
  • Partial payment 
  • No Payment       
  • Improper method used        
  • Other

इसे भी पढ़े : UP में कैसे करे Online-FIR

Work Management :

  • Work not created       
  • No health facility        
  • salary not given to semiskilled/skilled  
  • Other

Unemployment Allowances :

  • unemployment Allowances not paid     
  • Not accepting application   
  • Other

Measurement :

  • No timely measurement      
  • Improper Measurement      
  • Engineer not coming for measurement 
  • Measurement Equipments is not available    
  • Other        

Fund :

  • fund not available       
  • Fund not transferred  
  • fund in trasit      
  • Banks charging money for transfer of wages 
  • Other

Material :

  • Not Avialable
  • Hike in price  
  • Bad quality of material   
  • Other

Date of Complaint :

  • Date of occurrrence of event of complaint     
  • Complaint Description

4. Evidence submitted by complainant to prove complaint :

  • Name and other details of witnesses    
  • Details of document   
  • इसके बाद Captcha Code दिए गए बॉक्स में |
  • इसके बाद “Save Complaint” पर क्लिक करे |

5. एक नंबर से संभल कर रखे |

नोट : यहाँ पेज पर सिर्फ अंग्रेजी में ही साडी जानकारी ली जाएगी |

इन विषयो पर भी पढ़े :

Shivanshu Mehta

Leave a Reply