जेल Online eMulakat pass जाने कैसे बनेगा , कैदी से मिलना हुआ आसान , पूरे भारत में I

online emulakat jail pass

जेल eMulakat pass :

अब जेल में मिलना आसान eMulakat से होगा आवेदन , नहीं लगनी पड़ेगी लम्बी लाइन , ना ही देना पड़ेगा किसी को पैसा I यह वयवस्था देश के सभी जिलों (district) की जेलों ( jails ) में लागू होगी  I ऐसे होगी प्रक्रिया , प्रक्रिया की पूरी जानकारी निचे उपलब्ध I

जेल में बंद अपनों से मिलने  के लिए अब परिवार-जन और कोई भी अपना  घर बैठे ही आवेदन कर सकते है । इसके लिए ऑनलाइन/online आवेदन करने के कुछ घंटों बाद ही मिलने के लिए मुलाकाती पर्ची (jail visitor pass/ जेल eMulakat pass )  मिल जाएगी, जिसकी सूचना ई-मेल और मोबाइल पर दी जाएगी। इस सुविधा से मिलने के लिए अब लंबी लाइन नहीं लगनी पड़ेगी जिससे मुक्ति मिल जाएगी , न ही करनी  पड़ेगी किसी से सिफारिश और न ही देना पड़ेगा किसी को पैसा । बस अपनी डिटेल के साथ देनी होगी मिलने वाले कैदी की डीटेल ऑनलाइन ( detail online) I

जेल eMulakat pass इसके लिए जेल प्रशासन बनाइए website :

जेल eMulakat pass इसके लिए जेल प्रशासन की   https://eprisons.nic.in/public/MyVisitRegistration.aspx  पर अपने कैदी का विवरण देखकर मुलाकाती पर्ची (eMulakat pass / jail visitor pass) के लिए आवेदन कर सकते है । इस  जेल eMulakat pass कुछ घंटे बाद ही जेल प्रशासन इसकी अनुमति संबंधी जानकारी मेल और मोबाइल पर मेसेज कर देगा। इसमें मुलाकात करने वाले को अपना आईडी प्रूफ साथ रखना होगा। इसके लिए जेल पर ही महिला और पुरुषों के दो अतिरिक्त काउंटर बनाए गए हैं, वहां जाते ही पर्ची मिल जाएगी और मुलाकात हो जाएगी। इस ( जेल eMulakat pass ) मुलाकात करने वाले का रिकार्ड भी ऑनलाइन/online रहेगा।

यह होगी प्रक्रिया जेल eMulakat pass बनाने की :

यह होगी प्रक्रिया जेल eMulakat pass बनाने की , कैदियों से मुलाकात का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए लोगों को http://eprisons.nic.in/NPIP/public/Home.aspx पर जाना होगा। उसकी प्रक्रिया ऐसे होगी ऊपर दी गई वेब साइट पर NPIP का पेज पे right hand पे कुछ ऑप्शन होंगे जैसे eMULAKAT जिस पर आप क्लिक करना है तो यहां पर ‘न्यू विजिट रजिस्ट्रेशन ‘(NEW VISITOR REGISTRATION) ऑप्शन एक फॉर्म ओपन होगा। इसमें ‘विजिटर्स डीटेल’ (VISITOR DETAIL) और ‘टू मीट'(TO MEET) दो फॉर्म ओपन होंगे। विजिटर्स डीटेल में मुलाकाती को अपना पूरा ब्यौरा देना होगा जैसे नाम , पिता का नाम ,पता , उम्र , लिंग (GENDER) ,  वहीं कैदी के साथ उसका क्या संबंध है, इसके बारे में भी जानकारी देनी होगी। वहीं ई-मेल आईडी (e-mail id ) और मोबाइल नंबर  (mobile number ) भी रजिस्टर्ड कराना होगा , उसमे दो ऑप्शन और होंगे identity proof जिसमे कुछ ऑप्शन होंगे जैसे ड्रॉविंग लाइसेंस , पासपोर्ट और अन्य ऑप्शन होंगे को सेलेक्ट करना हो साथ जो आइडेंटिटी प्रूफ आप सेलेक्ट करेंगे उस ही आइडेंटिटी प्रूफ (identity proof) का नंबर(number) भी डालना होगा , उस आइडेंटिटी (identity) जेल eMulakat pass को जेल जाते समय साथ में रखाना अनिवार्य होगा I    

ऐसा होगा eMulakat form

 दूसरे फॉर्म में कैदी का नाम, वह देश की किस जेल में बंद है, इसके साथ ही विजिट डेट (visit date) /दिनांक भी फिल करना होगा । जिसके बाद आवेदनकर्ता को रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जायेगा , उसी के रजिस्ट्रेशन नंबर से डाउनलोड करनी होगा मुलाकाती पर्ची (  जेल eMulakat pass / jail visitor pass)    , उसी का प्रिंट लेकर साथ ही अपनी ओरिजिनल( original I.D)  लेकर जाने पर होगी तुरंत मुलाकात |

अभी तक जेलों में कैदियों से मिलने के लिए लोगों को काफी दिक्कत्तों का सामना करना पड़ता था । पहले पेटिशन राइटर के पास जाकर मुलाकाती पर्ची बनवानी पड़ती थी, उसके बाद उसे लेकर लाइन में लगना पड़ता था और लोगो की करनी पड़ती थी जीहजूरी देना पड़ता था पैसा जिसके बाद ही  मुलाकात हो पाती थी ।

इस e-पोर्टल से एक फायदा और है ये कि मुलाकातियों को बार-बार रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी। एक बार अपनी सारी डीटेल सबमिट कर देने  के  बाद मुलाकाती उसी रजिस्ट्रेशन नंबर के आधार पर हर बार अपनी मुलाकात शेड्यूल (shedule) करा सकते हैं। इसके लिए  बार-बार पूरा फॉर्म भरने की आवश्यकता  नहीं  होगी । एक बार रजिस्ट्रेशन के बाद जो रजिस्ट्रेशन नंबर अलॉट हो जाएगा, उसके थ्रू (through)  फिर से वह  मुलाकात करने की डेट ले सकते हैं।

यूपी (उत्तर प्रदेश) की यह जेल हैं :

सेंट्रल जेल (central jail )  – आगरा, बरेली, फतेहगढ़, नैनी, वाराणसी

डिस्ट्रिक्ट जेल (district jail) उत्तर प्रदेश  बस्ती, बिजनौर, बुलंदशहर, देवरिया, एटा, इटावा, फैजाबाद, फतेहगढ़, फतेहपुर, फिरोजाबाद, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, गाजीपुर, गोंडा, गोरखपुर, हमीरपुर, हरदोई, जौनपुर, झांसी, कानपुर, कानपुर देहात, लखीमपुर, ललितपुर, लखनऊ, बलरामपुर, कन्नौज, कौशांबी, आगरा, अलीगढ़, आजमगढ़, बदायूं, बहराइच, बलिया, बांदा, बरेली,  महराजगंज, महोबा, मैनपुरी, मथुरा, मऊ, मेरठ, मिरजापुर, मोरादाबाद, मुजफ्फरनगर, ओरई, पीलीभीत, प्रतापगढ़, रायबरेली, रामपुर, शाहजहांपुर, सहारनपुर, सिद्धार्थनगर, सुल्तानपुर, सीतापुर अन्य  I

Shivanshu Mehta

Leave a Reply