CBI और CID में अंतर

CBI और CID क्या है

इसे भी पढ़े :समान नागरिक संहिता | Uniform Civil Code

अक्सर न्यूज़ देखते हुए या अखबारों में हमको CBI और CID जैसे शब्द दिखते हैं हमें समझ में नहीं आता कि CBI क्या है और CID क्या है  और CBI – CID  में क्या अंतर है दोनों के कार्यक्षेत्र कैसे हैं , कौन केंद्र में है , कौन राज्य में है I हमें बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है और अक्सर अपने आसपास के लोगों  से पूछने पर  पूरी जानकारी प्राप्त नहीं हो पाती।  पर आज आपको हमारे द्वारा CBI और CID होते क्या है और उन में क्या अंतर है इससे संबंधित सारी जानकारियां प्राप्त हो जाएगी।  पूरी जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे साथ आज तक जुड़े रहे। 

इसे भी पढ़े : Update Aadhaar Address

CBI क्या है

इसे भी पढ़े : RTI कैसे लगाए

केंद्रीय जांच ब्यूरो (Central Bureau of Investigation) का गठन 1963 में गृह मंत्रालय के एक प्रस्ताव द्वारा किया गया था। बाद में, इसे कर्मियों के मंत्रालय में स्थानांतरित कर दिया गया और अब इसे संलग्न कार्यालय (Ministry of Personnel) का दर्जा प्राप्त है। विशेष पुलिस स्थापना 1941 को भी सीबीआई में मिला दिया गया था।

1962-1964 भ्रष्टाचार की रोकथाम पर संथानम समिति (Santhanam Committee) द्वारा CBI की स्थापना की सिफारिश की गई थी। CBI एक वैधानिक निकाय (Statutory Body) नहीं है I CBI जो की दिल्ली विशेष पुलिस स्थापना अधिनियम 1946 से अपनी शक्तियों को प्राप्त करता है।

CBI केंद्र सरकार की मुख्य जांच एजेंसी है। यह भ्रष्टाचार को रोकने और प्रशासन में अखंडता बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह केंद्रीय सतर्कता आयोग (Central Vigilance Commission) और लोकपाल को भी सहायता प्रदान करता है

इसे भी पढ़े : राजद्रोह क्या होता है

CBI आदर्श वाक्य

उद्योग, निष्पक्षता और अखंडता

CBI की संरचना

इसे भी पढ़े : Online सम्पत्ति पंजीकरण

  • CBI का नेतृत्व एक निदेशक (Director) करता है और उसकी सहायता एक विशेष निदेशक या  अतिरिक्त निदेशक (Special Director or  Additional Director) द्वारा की जाती है।
  • इसके अतिरिक्त, इसमें कई संयुक्त निदेशक, डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल, पुलिस अधीक्षक और अन्य सभी सामान्य पुलिस कर्मी हैं।

इसे भी पढ़े : EWS Certificate

CBI के संगठन की संरचना

इसे भी पढ़े : UP Online-FIR

CBI में निम्नलिखित विभाग हैं:

  • भ्रष्टाचार रोधी विभाग (Anti-Corruption Division)
  • आर्थिक अपराध प्रभाग (Economic Offences Division)
  • विशेष अपराध प्रभाग  (Special Crimes Division)
  • अभियोजन निदेशालय (Directorate of Prosecution)
  • प्रशासन प्रभाग (Administration Division)
  • नीति और समन्वय प्रभाग (Policy & Coordination Division)
  • केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (Central Forensic Science Laboratory)

इसे भी पढ़े : बेरोजगारी भत्ता Online आवेदन

CBI के कार्य

  • CBI द्वारा भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी और केंद्र सरकार के कर्मचारियों के कदाचार के मामलों की जाँच I
  • CBI द्वारा पेशेवर अपराधियों के संगठित गिरोहों द्वारा प्रतिबद्ध, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय अपराधों के गंभीर अपराध की जाँच करना।
  • CBI द्वारा भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसियों और विभिन्न राज्य पुलिस बलों की गतिविधियों का समन्वय।
  • CBI द्वारा राज्य सरकार के अनुरोध पर सार्वजनिक महत्व के किसी भी मामले की जाँच अपने हाथ लेना ।
  • CBI द्वारा राजकोषीय और अर्थशास्त्र के नुकसान के उल्लंघन से संबंधित मामलों की जांच करना I
  • CBI द्वारा अपराध के आंकड़ों को बनाए रखना और सूचना का प्रसार करना I
  • CBI द्वारा सभी केंद्रीय सरकार के लोक सेवकों विभागों, केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों और केंद्रीय वित्तीय संस्थानों द्वारा किए गए भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी के मामलों की जांच।
  • CBI की महत्वपूर्ण भूमिका भ्रष्टाचार को रोकने और प्रशासन में अखंडता बनाए रखने के लिए है। यह भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम (Prevention of Corruption Act), 1988 से संबंधित मामलों में केंद्रीय सतर्कता आयोग की देखरेख में काम करता है।

इन विषयो पर भी पढ़े :

CID क्या है

CID का पूरा नाम Crime Investigation Department (आपराधिक जांच विभाग) होता है I जिसे ब्रिटिश काल में राज के अपराधिक मामलों से निपटने के लिए निर्माण किया गया था I CID का निर्माण ब्रिटिश सरकार द्वारा 1902 में किया गया था जो कि पुलिस आयोग की सिफारिशों पर आधारित था I CBI  राज्य  के बड़े अपराधिक मामलों की जांच करती है जैसे कोई हत्या हुई हो दंगे अपहरण आदि संबंधित मामलों में जांच करती है I

हर राज्य की अलग CID होती है और इनका संचालन राज्य सरकार और राज्य के हाई कोर्ट द्वारा ही होता है। CID उनके दिशा-निर्देशों पर ही काम करती है। CID में शामिल होने के लिए पुलिसकर्मियों को विशेष परीक्षण दिया जाता है जिससे कि वह विपरीत से विपरीत परिस्थिति का डटकर सामना कर सके।

इसे भी पढ़े : किसान क्रेडिट कार्ड कैसे प्राप्त करें ?

CID की शाखाएं (Branches)

CID की कई शाखाएं (Branches) होती हैं जो अलग-अलग राज्यों में अलग तरह से काम करती हैं –

  • CB-CID (Crime Branch – CID)
  • एंटी-ह्यूमन ट्रैफिकिंग एंड मिसिंग पर्सन्स सेल (Anti-Human Trafficking & Missing Persons Cell)
  • एंटी-नारकोटिक्स सेल (Anti-Narcotics Cell)
  • फिंगर प्रिंट ब्यूरो (Finger Print Bureau)
  • सीआईडी (CID)
  • आतंकवाद विरोधी दस्ते (Anti-Terrorism squad)

इसे भी पढ़े : बनवाएं खराब सड़कें गांव की 

CBI और CID में अंतर

इसे भी पढ़े : लेखपाल कैसे बने

इसे भी पढ़े : ग्रामीण डाक सेवक कैसे बने

अंतर CBI CID
पूरा नामCBI का पूरा नाम Central Bureau of InvestigationCID का पूरा नाम Crime Investigation Department
कार्यCBI भारत की केंद्र सरकार की एक एजेंसी है, जो राष्ट्र भर में होने वाले अपराध की जांच करती है CID राज्य पुलिस का एक विभाग है, जो राज्य के भीतर किए गए अपराध की जांच करता है
स्थापना वर्षCBI की स्थापना 1941 में दिल्ली विशेष पुलिस स्थापना अधिनियम से हुआ थाCID की स्थापना 1902 में ब्रिटिश सरकार द्वारा हुई थी
परिचालन क्षेत्रCBI का विस्तार पूरे देश में हैCID केवल राज्यों तक सीमित है
परीक्षा स्नातक होने के बाद उम्मीदवार को पुलिस बल में शामिल होना चाहिए, और सीआईडी में प्रवेश के लिए एक अपराध परीक्षा (Criminology Exam) उत्तीर्ण करनी चाहिएस्नातक होने के बाद उम्मीदवार को पुलिस बल में शामिल होना चाहिए,
और CGPE पास करें (Combined graduate preliminary exam)
शाखाएँ / प्रभाग1) भ्रष्टाचार रोधी विभाग (Anti-Corruption Division)
2) आर्थिक अपराध प्रभाग (Economic Offences Division)
3) विशेष अपराध प्रभाग  (Special Crimes Division)
4) अभियोजन निदेशालय (Directorate of Prosecution)
5) प्रशासन प्रभाग (Administration Division)
6) नीति और समन्वय प्रभाग (Policy & Coordination Division)
7) केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (Central Forensic Science Laboratory)
1) CB-CID (Crime Branch – CID)
2) एंटी-ह्यूमन ट्रैफिकिंग एंड मिसिंग पर्सन्स सेल (Anti-Human Trafficking & Missing Persons Cell)
3) एंटी-नारकोटिक्स सेल (Anti-Narcotics Cell)
4) फिंगर प्रिंट ब्यूरो (Finger Print Bureau)
5) सीआईडी (CID)
6) आतंकवाद विरोधी दस्ते (Anti- Terrorism squad)
कार्य देश भर में आर्थिक और भ्रष्टाचार के मामले और अन्य अंतरराज्यीय मामलेराज्यों के भीतर आपराधिक मामले – दंगा के मामले , हत्या के मामले और कई अन्य।

इसे भी पढ़े : अपने Area को Sanitize कैसे करवाए ?

CBI और CID में समानता

  • CBI और CID दोनों में खुफिया और जांच विभाग है।
  • CBI और CID दोनों में अधिकारियों को विशेष प्रशिक्षण।
  • CBI और CID दोनों में स्नातक होने के बाद, एक उम्मीदवार को पुलिस बल में शामिल होना होता है।
  • CBI और CID दोनों द्वारा जांच के साथ अपराध का पता लगाना और निरीक्षण करना।

इसे भी पढ़े : AAROGYA SETU APP

हम आशा करते हैं हमारे पोस्ट द्वारा CBI और CID दोनों क्या होते हैं और दोनों में अंतर और समानताएं क्या होती है आपको समस्त जानकारियां प्राप्त हो गई होंगी I अपने विचार हमें कमेंट करके अवश्य बताएं और अन्य जानकारियां प्राप्त करने के लिए हमारे साथ जुड़े रहे I

इन विषयो पर भी पढ़े :

Shivanshu Mehta

Leave a Reply